Senior Citizen Saving Scheme (SCSS) 2024: 2 लाख 10 हजार रुपये तक का शानदार तोहफा दे रही सरकार, जानिए कैसे उठाएं लाभ

वरिष्ठ नागरिकों की खुशखबरी! सरकार ने बढ़ाई SCSS की ब्याज दर, अब मिलेगा 8.3% ब्याज! जानिए कैसे करें निवेश और पाएं शानदार रिटर्न. ₹10 लाख के निवेश पर पाएं 5 साल में ₹4.10 लाख का ब्याज!

Photo of author

Written byManju Chamoli

Published on

Senior Citizen Saving Scheme (SCSS) 2024: 2 लाख 10 हजार रुपये तक का शानदार तोहफा दे रही सरकार, जानिए कैसे उठाएं लाभ
Senior Citizen Saving Scheme

Senior Citizen Saving Scheme (SCSS) 2024: भारत सरकार द्वारा सीनियर सिटीजन्स के लिए शुरू की गई एक महत्वपूर्ण बचत योजना है। यह योजना विशेष रूप से बुजुर्गों के लिए बनाई गई है ताकि वे अपने रिटायरमेंट के बाद सुरक्षित और आरामदायक जीवन जी सकें।

सीनियर सिटीजन्स कौन हैं?

जिनकी उम्र 60 से 80 साल के बीच होती है, वे सीनियर सिटीजन्स कहलाते हैं। 80 साल या उससे अधिक उम्र के लोग सुपर सीनियर सिटीजन्स माने जाते हैं। इस योजना में निवेश करने के लिए रिटायर कर्मियों की उम्र 50 साल भी हो सकती है।

सीनियर सिटीजन स्कीम के लिए खाता कैसे खोलें?

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में खाता खोलना बेहद आसान है। आप इसे किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस के माध्यम से खोल सकते हैं। लगभग सभी बैंक इस योजना का लाभ प्रदान करते हैं।

कितनी राशि जमा कर सकते हैं?

इस योजना में आप न्यूनतम 1,000 रुपये से लेकर अधिकतम 30 लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं। यदि आप अकेले खाता खोल रहे हैं, तो आप 9 लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं। संयुक्त खाता (जॉइंट अकाउंट) के लिए, आप 30 लाख रुपये तक निवेश कर सकते हैं। खाता खोलने की तारीख से 5 साल बाद जमा रकम मैच्योर होती है। अगर आप इसे बढ़ाना चाहते हैं, तो इसे 3 साल और बढ़ा सकते हैं।

यह भी देखें 1 जुलाई से होने वाले ये 5 बड़े बदलाव, सीधा जेब पर होगा असर

1 जुलाई से होने वाले ये 5 बड़े बदलाव, सीधा जेब पर होगा असर

ब्याज दर क्या है?

SCSS में इस समय 8.2% की ब्याज दर है। यह ब्याज दर तिमाही आधार पर आपके खाते में जमा होती है। इस स्कीम में 1,000 रुपये से लेकर 30 लाख रुपये तक का निवेश किया जा सकता है।

पात्रता

  • कोई सीनियर सिटीजन स्वयं या अपने पति/पत्नी के साथ संयुक्त खाता खोल सकता है।
  • NRI और HUF परिवार इस योजना के तहत खाता खोलने के पात्र नहीं हैं।
  • जिनकी आयु 60 वर्ष या उससे अधिक है, वे खाता खोल सकते हैं।
  • जिनकी आयु 55 वर्ष या उससे अधिक लेकिन 60 वर्ष से कम है और जो खाता खोलने की तारीख को सुपरएन्यूएशन या VRS पर सेवानिवृत्त हो चुके हैं।
  • रक्षा सेवाओं से सेवानिवृत्त कर्मी जिनकी आयु 50 वर्ष है, वे भी इस योजना के लिए पात्र हैं।

विशेषताएँ

  • 01.04.2024 से लागू नियम के अनुसार, इस योजना में आप 1,000 रुपये की न्यूनतम जमा से लेकर अधिकतम 30 लाख रुपये तक निवेश कर सकते हैं।
  • पांच साल की मैच्योरिटी के बाद खाते की अवधि तीन साल के लिए और बढ़ाई जा सकती है।
  • ब्याज दर 8.20% प्रतिवर्ष है।
  • खाताधारक किसी भी तिमाही में देय ब्याज का दावा नहीं करता है तो ऐसी ब्याज राशि पर अतिरिक्त ब्याज नहीं मिलेगा।
  • पति/पत्नी सिंगल अकाउंट और ज्वाइंट अकाउंट दोनों खोल सकते हैं।
  • जमाकर्ता किसी व्यक्ति या एक से अधिक व्यक्तियों को नॉमिनी बना सकता है।
  • नामांकन रद्द या परिवर्तित किया जा सकता है।
  • खाता खोलने की समय की गई जमा राशि का भुगतान पांच वर्ष या उसकी समाप्ति पर या खाता खोलने की तारीख से खाते की अवधि बढ़ाने की स्थिति में आठ वर्ष की समाप्ति के बाद किया जाएगा।
  • बीच में धनराशि निकालने पर जुर्माना लगेगा।

कितना पैसा मिलेगा?

उदाहरण के लिए: यदि आप 10 लाख रुपये निवेश करते हैं, तो 8.2% की ब्याज दर पर आपको सालाना 82,000 रुपये मिलेगा। 5 साल के बाद आपको कुल 4,10,000 रुपये ब्याज मिलेगा और साथ ही मूलधन 10 लाख रुपये भी मिल जाएगा। कुल मिलाकर, 5 साल के बाद आपके हाथ में 14,10,000 रुपये होंगे। इसी प्रकार, 5 लाख रुपये निवेश करने पर 5 साल बाद 2,10,000 रुपये ब्याज मिलेगा।

यह योजना सीनियर सिटीजन्स के लिए एक वरदान साबित हो सकती है। यह योजना न केवल सुरक्षित है, बल्कि इसमें उच्च ब्याज दर भी मिलती है, जिससे बुजुर्ग अपने भविष्य को सुरक्षित और आरामदायक बना सकते हैं। अगर आप या आपके परिवार में कोई सीनियर सिटीजन है, तो इस योजना में निवेश करने का विचार करें।

यह भी देखें 1 करोड़ कर्मचारियों की खुशी का पल, 18 महीने के DA एरियर का प्रस्ताव पर लगी मुहर, मिलेंगे 2,30,000 रू

1 करोड़ कर्मचारियों की खुशी का पल, 18 महीने के DA एरियर का प्रस्ताव पर लगी मुहर, मिलेंगे 2,30,000 रू

Leave a Comment