EPS 95 पेंशनधारकों के लिए बड़ी राहत! 7500+ DA को लेकर मीटिंग में लिया गया बड़ा फैसला, सरकार पर बढ़ा दबाव

सेवानिवृत्त कर्मचारी भविष्य निधि कल्याण समिति (EPS 95) की हालिया मीटिंग में केंद्र सरकार को चार महीने का समय दिया गया है ताकि वे कोशियारी कमेटी की सिफारिशों को लागू कर सकें। अगर मांगे पूरी नहीं होती हैं, तो दिसंबर में बड़े पैमाने पर आंदोलन होगा। मीटिंग में पेंशन वृद्धि, मेडिकल सुविधाएं, और हायर पेंशन आवेदनों पर चर्चा हुई।

Photo of author

Written byManju Chamoli

Published on

EPS 95 पेंशनधारकों के लिए बड़ी राहत! 7500+ DA को लेकर मीटिंग में लिया गया बड़ा फैसला, सरकार पर बढ़ा दबाव
Big relief for EPS 95 pensioners

भोपाल में सेवानिवृत्त कर्मचारी भविष्य निधि कल्याण समिति (EPS 95) की एक महत्वपूर्ण बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में पेंशनभोगियों से जुड़े अनेक महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक की अध्यक्षता राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष श्री भीमराव डोंगरे ने की, और विशेष अतिथि के रूप में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री पी एन पांडे उपस्थित रहे।

मध्य प्रदेश इकाई के अध्यक्ष चंद्रशेखर परसाई के नेतृत्व में आयोजित इस बैठक में पेंशनभोगियों ने न्यूनतम पेंशन 7500 रुपये + DA, परिवार पेंशन में सुधार, और लंबित एरियर भुगतान जैसे मुद्दों को उठाया।

सेवानिवृत्त कर्मचारी भविष्य निधि कल्याण समिति की मीटिंग में पास हुवा प्रस्ताव

हाल ही में, सेवानिवृत्त कर्मचारी भविष्य निधि कल्याण समिति (EPS 95) की एक महत्वपूर्ण मीटिंग आयोजित की गई, जिसमें एक प्रमुख प्रस्ताव पारित किया गया। इस प्रस्ताव के अनुसार, केंद्र सरकार को कोशियारी कमेटी की रिपोर्ट और अन्य मांगों को पूरा करने के लिए चार महीने का समय दिया जाएगा। अगर सरकार इस समय सीमा में मांगे पूरी नहीं करती है, तो दिसंबर में नई दिल्ली में बड़े पैमाने पर आंदोलन किया जाएगा।

कोशियारी कमेटी की रिपोर्ट की सिफारिशें

1. पेंशन में वृद्धि:
कोशियारी कमेटी की सिफारिश के अनुसार, ईपीएफ पेंशनभोगियों को प्रतिमाह ₹3000 पेंशन और इस पर महंगाई भत्ता दिया जाना चाहिए। इससे पेंशनभोगियों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा और वे अपने खर्चों को बेहतर तरीके से संभाल सकेंगे।

2. मेडिकल सुविधाएं:
पेंशनभोगियों को उचित मेडिकल सुविधाएं भी प्रदान की जानी चाहिए। इससे वे अपने स्वास्थ्य का बेहतर तरीके से ख्याल रख सकेंगे और बीमारियों से बचाव कर पाएंगे।

3. हायर पेंशन के आवेदन:
हायर पेंशन के आवेदनों के लिए समय सीमा निर्धारित करने का अनुरोध केंद्र सरकार से किया जाएगा, ताकि अधिक से अधिक पेंशनभोगी इसका लाभ उठा सकें। इससे पेंशनभोगियों को उनके हक के अनुसार पेंशन मिल सकेगी।

यह भी देखें नए टैक्स सिस्टम में बड़ी छूट, सरकार दे सकती है ये तोहफा

नए टैक्स सिस्टम में बड़ी छूट, सरकार दे सकती है ये तोहफा

वर्तमान कर्मचारियों के लिए जागरूकता

वर्तमान में कार्यरत कर्मचारियों के लिए ईपीएफ पेंशन के संबंध में जागरूकता फैलाने का निर्णय लिया गया है। इससे वे समय रहते अपने पेंशन संबंधी अधिकारों और लाभों के बारे में सही जानकारी प्राप्त कर सकेंगे और भविष्य के लिए बेहतर योजना बना सकेंगे।

महत्वपूर्ण वक्ताओं के विचार

मीटिंग में कई प्रमुख वक्ताओं ने अपने विचार प्रस्तुत किए और संगठन के कार्यों की सराहना की। वक्ताओं में शामिल थे:

  • हेमंत कपूर
  • अजय श्रीवास्तव
  • अनिल बाजपेई
  • ए के निगम
  • पीके परिहार
  • श्याम सुंदर शर्मा
  • श्रीमती संजना रिछारिया
  • महेश चंद्र उपाध्याय
  • महेश मालवीय
  • जे पी गौड़
  • पुंडलिक पांडे

भविष्य की योजनाओं की जानकारी

भोपाल में आयोजित EPS 95 पेंशनधारकों की बैठक में संगठन के अध्यक्ष श्री भीमराव डोंगरे और मध्य प्रदेश इकाई के अध्यक्ष श्री चंद्रशेखर परसाई ने पेंशनभोगियों के हित में संगठन के विभिन्न प्रयासों और भविष्य की योजनाओं पर विस्तार से प्रकाश डाला।

डोंगरे जी ने संगठन द्वारा किए गए विभिन्न कार्यों और पेंशनभोगियों के कल्याण के लिए किए गए प्रयासों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि संगठन पेंशनभोगियों की समस्याओं को हल करने और उनके अधिकारों की रक्षा के लिए लगातार प्रयासरत है।

परसाई जी ने संगठन की भविष्य की योजनाओं पर विस्तृत जानकारी प्रदान की। उन्होंने बताया कि संगठन अपने कार्यों को अधिक प्रभावी बनाने के लिए नए कदम उठा रहा है और पेंशनभोगियों के हित में कई नई योजनाएं बनाई गई हैं। इन योजनाओं में पेंशन में वृद्धि, बेहतर मेडिकल सुविधाएं, और पेंशनभोगियों के लिए जागरूकता कार्यक्रम शामिल हैं।

यह भी देखें कोर्ट ने कहा माँ- बाप के घर पर जबरन कब्जा करने वाले बेटे को बेदखल नहीं कर सकते, लेकिन बेटे को करना होगा ये काम

कोर्ट ने कहा माँ- बाप के घर पर जबरन कब्जा करने वाले बेटे को बेदखल नहीं कर सकते, लेकिन बेटे को करना होगा ये काम

Leave a Comment